जुमे की नमाज के बाद यूपी में बिगड़े हालात, प्रयागराज में पथराव जारी, भेजी जा रही अतिरिक्त पुलिस

Share this post

यूपी के कई जिलों में जुमे की नवाज के बाद प्रदर्शन किया जा रहा है। कई जगह सिर्फ नारेबाजी हो रही है तो प्रयागराज में स्थिति तनावपूर्ण है। हालांकि पूरे प्रदेश में जुमे को लेकर अलर्ट जारी किया गया था। पुलिस के साथ ही खुफिया विभाग भी इस तरह के प्रदर्शनों को रोकने का प्रयास कर रहा है। धर्म गुरुओं से बातचीत भी की गई। प्रयागराज में अटाला इलाके में प्रदर्शनकारियों ने आरएएफ की गाड़ी में आग लगाने की कोशिश की। डीएम ने उपद्रवियों से सख्ती से निपटने के लिए निर्देश दिए हैं। हालात काबू पाने के लिए लाठीचार्ज का आदेश दिया गया है। पुलिस ने उपद्रवियों पर कार्रवाई करते हुए बल का प्रयोग किया है। अटाला रोड से उपद्रवी खदेड़े जाने से नुरुल्लाह रोड के आसपास के इलाके में पहुंच गए हैं। फिलहाल नुरुल्लाह रोड पर बुड्ढा ताजिया मस्जिद के पास उपद्रवी जमा हैं। नुरुल्लाह रोड पर आंसू गैस के गोले छोड़ने के साथ ही आरएएफ ने रबर बुलेट का भी इस्तेमाल किया है। हालात पर काबू पाने के लिए प्रयागराज में अतिरिक्त पुलिस भेजी जा रही है।  फिरोजाबाद में आगा शाह मस्जिद के बाहर भीड़ झंडे लहरे हुए नारेबाजी कर रही है। नुपुर शर्मा की गिरफ्तार को लेकर लोग प्रदर्शन कर रहे हैं। 
प्रयागराज में पीएसी की एक गाड़ी में लगाई गई आगप्रयागराज में जुमे की नमाज के बाद शुरू हुए बवाल में प्रदर्शनकारियों ने पीएसी की एक गाड़ी में भी आग लगा दी गई है। वाटर कैनन मशीन ने पानी की बौछार कर आग पर कड़ी मशक्कत के बाद काबू पाया। साथ ही हालात पर काबू पाने के लिए अतिरिक्त पुलिस भेजी जा रही है। 
प्रयागराज के अटाला इलाके में भड़की हिंसा में हमलावरों ने देशी बमों से पुलिस पर हमला किया है। साथ ही भीड़ ने सड़कों पर आगजनी की है। सड़क पर खड़े वाहनों में तोड़फोड़ की गई है और उन्हें आग के हवाले भी कर दिया है।
प्रयागराज के अटाला इलाके में प्रदर्शन के दौरान पुलिस अधिकारियों को पत्थरबाजी के दौरान पत्थर लगे हैं। बताया जा रहा है कि इस दौरान एसएसपी और डीएम को भी पत्थर लगा है। पुलिस पत्थरबाजों को खदेड़ने की कोशिश में जुटी हुई है। पुलिस की गाड़ियों की भी नुकसान पहुंचाया गया है। साथ ही देशी बमों से भी पुलिस पर हमला किया गया है। पुलिस ने हालात पर काबू पाने के लिए आंसू गैसे के गोले दागे
कानपुर के मुस्लिम इलाके में जुमे की नमाज के बाद हजारों की भीड़ ने पुलिस पर पथराव शुरू कर दिया। इससे हड़कंप मच गया। पुलिस ने जब लाठीचार्ज किया तो भीड़ गलियों और छतों पर पहुंच गई और पुलिस पर पथराव करने लगी। आरएएफ के साथ पूरे जिले की फोर्स बुला ली गई है। घटना करीब दो बजे नमाज के बाद हुई।
जुमे की नमाज के बाद देवबंद में भी पथराव हो रहा है। बताया जा रहा है कि पुलिस ने आठ प्रदर्शनकारियों को हिरासत में लिया है। पत्थरबाज हाथों में पोस्टर और बैनर लिए हुए हैं।
प्रयागराज में पुलिस पत्थरबाजों को खदेड़ने में जुटी हुई है। इसके लिए आंसू गैस के गोलों को इस्तेमाल भी किया गया। आरएएफ(रैपिड एक्शन फोर्स) के साथ पूरे जिले की फोर्स बुला ली गई है। पत्थरबाजी की घटना करीब दो बजे नमाज के बाद हुई। इस इलाके में पहले से ही बवाल की आशंका जाहिर की जा रही थी। इसी के चलते बाजार को बंद करा दिया गया था।
नकाबपोश पत्थरबाज लगातार पुलिस को निशाना बनाकर पत्थराव कर रहे हैं। प्रदर्शनकारियों की भीड़ में छोटे-छोटे को आगे रखा गया है, जोकि मुंह पर कपड़ा लपेटे हुए
वाराणसी के ज्ञानवापी परिसर में चल रहे मामलों के बीच मुस्लिम समाज के जिम्मेदार लोगों ने आम जनता के साथ ही युवाओं से भी संयम और सतर्कता बरतने की अपील की। जमीयत के नाम पर फैलाई जा रही अफवाहों का भी खंडन करते हुए इसे सिरे से खारिज किया। वहीं, अंजुमन इंतेजामिया मसाजिद कमेटी ने जुमे की नमाज के लिए सीमित संख्या में ही लोगों से आने की अपील की है।
पुलिस कमिश्नर डीके ठाकुर के मुताबिक, पुराने लखनऊ में चौकसी बढ़ा दी गई है। पुराने शहर को 37 सेक्टर में बांटा गया है। हर सेक्टर का प्रभारी भी पुलिस अधिकारी को नियुक्त किया गया है। इस इलाके में 61 संवेदनशील स्थान भी चिह्नित किए गए हैं। यहां पुलिस की ड्यूटी लगाई गई है। पुलिस के अफसरों ने दोनों धर्म के जिम्मेदारों से बातचीत कर शांति बनाए रखने की अपील की है।
सीएम योगी ने अधिकारियों से कहा कि जुमे की नमाज को देखते हुए मस्जिदों के आसपास सुरक्षा सख्त की जाए। किसी को किसी प्रकार की समस्या नहीं होनी चाहिए। सुरक्षा के व्यापक इंतजाम करें। कानून व्यवस्था से खिलवाड़ करने वालों से सख्ती से निपटा जाए।
कानपुर में पुलिस, पीएसी और आरएएफ के जवानों की तैनाती की गई है। सीएम योगी ने भी इसके लिए सख्त निर्देश जारी किए हैं और अधिकारियों को सतर्क रहने के लिए कहा है। इस माहौल में कानपुर क्षेत्र का मुआयना करने आए मुस्लिम लीग के सांसद बशीर को प्रशासन ने वापस लौटा दिया है। दिल्ली से कानपुर ट्रेन से पहुंचे बशीर सर्किट हाउस में रुके हुए थे। पुलिस ने उन्हें वहां से बाहर भेज दिया
साजिश के तहत प्रदर्शन करने वालों में नाबालिगों को आगे रखा गया है, ताकि पुलिस कार्रवाई न कर सके। घरों की छत से हो रही पत्थरबाजी साफ इशारा कर रही है कि साजिश की तैयारी पहले से ही कर ली गई थी।
कानपुर में भड़की हिंसा के बाद आज जुमे की पहली नमाज हुई। पूरे प्रदेश में पुलिस और प्रशासन हाई अलर्ट पर हैं। कानपुर शहर में धारा 144 लागू है। नमाज के बाद कानपुर, प्रयागराज, सहारनपुर, बरेली समेत प्रदेश के कई जिलों में मुस्लिम समुदाय के लोग प्रदर्शन कर रहे हैं। प्रयागराज में पुलिस प्रशासन को चुनौती देते हुए प्रदर्शनकारियों ने पथराव शुरू कर दिया है।

Report- Akanksha Dixit.

uv24news
Author: uv24news

+43
°
C
+45°
+37°
Delhi (National Capital Territory of India)
Wednesday, 30
Thursday
+44° +35°
Friday
+42° +35°
Saturday
+43° +34°
Sunday
+43° +35°
Monday
+44° +36°
Tuesday
+45° +36°
See 7-Day Forecast

 

Radio Live