जमीनी कार्यकर्ताओं को इनाम, नाकारों को सजा और परिवारवाद से दूरी; कांग्रेस के 9 बड़े प्लान

Share this post

राजस्थान के उदयपुर में हो रहे कांग्रेस के नवसंकल्प शिविर में कांग्रेस ने प्लान बनाया है कि आगे जो कार्यकर्ता अच्छा काम कर रहे हैं, उनको रिवार्ड दिया जाएगा और खराब काम करने वालों को सजा दी जाएगी। कांग्रेस नवसंकल्प शिविर का आगाज हो चुका है। गांधी परिवार के तीनों प्रमुख सदस्यों के साथ कांग्रेस के तमाम नेता उदयपुर पहुंच चुके हैं। पहले दिन शुक्रवार को कांग्रेस के महासचिव व राजस्थान के प्रभारी अजय माकन ने प्रेस कांफ्रेंस में बताया कि शिविर के बाद कांग्रेस पार्टी के ढांचे में आमूलचूल परिवर्तन होने जा रहा है। इसके साथ ही उन्होंने नवसंकल्प शिविर में किन मुद्दों पर चर्चा की जाएगी, उसके बारे में भी बताया। हम अपनी इस खास रिपोर्ट में बता रहे हैं कांग्रेस के उन 9 बड़े प्लान्स के बारे में, जिनके भरोसे पार्टी आने वाले विधानसभा चुनावों के साथ 2024 की सत्ता का सपना देख रही है। 
होटल अरावली ताज में कांग्रेस नेता माकन ने बताया कि संगठन को लेकर बने कांग्रेस के पैनल ने पार्टी में आमूलचूल परिवर्तन के लिए सुझाव दिए हैं। उन पर चर्चा की जा रही है। उन्होंने बताया कि कांग्रेस पार्टी के ढांचे में अब तक वही पद चले आ रहे थे जो सालों पहले थे। लेकिन अब उसमें बूथ लेवल से लेकर ऊपर तक बदलाव किया जा रहा है। कुछ चीजें हमारे संविधान में पहले से थी, लेकिन उनको अमल में नहीं लाया जा सका। माकन ने कहा कि पार्टी एक परिवार एक टिकट के फॉर्मूले पर काम करेगी। किसी भी नेता का रिश्तेदार, बेटा या बेटी को टिकट तभी मिल सकेगा, जब तक कि वे पांच साल पार्टी में काम नहीं करेंगे। यानी पैराशूट से कोई नेता नहीं उतारा जाएगा। 
भाजपा की तरह ही अब कांग्रेस में भी मंडलों का गठन किया जाएगा। हर पंद्रह बीस बूथों पर एक मंडल होगा। तीन से चार मंडलों पर एक ब्लॉक का गठन किया जाएगा। इसके गठन के लिए भी एक प्रक्रिया अपनाई जाएगी। माकन ने बताया कि अक्सर चुनाव के समय ही हम कुछ प्राइवेट एजेंसी से सर्वे करवाते रहे हैं। लेकिन अब तय किया गया है कि कांग्रेस का इंटरनल पब्लिक इनसाइड डिपार्टमेंट होगा। इस डिपार्टमेंट में शामिल लोग लगातार जनता के बीच फीडबैक लेंगे। जनता किन मुद्दों पर क्या चर्चा कर रही है, उसके आधार पर चुनावी रणनीति तैयार की जाएगी।
माकन ने कहा कि जो कार्यकर्ता अच्छा काम कर रहे हैं, उनको रिवार्ड नहीं दिया जाता है और जो काम नहीं कर रहे हैं या खराब काम कर रहे हैं, उन्हें सजा नहीं मिलती है। इसको लेकर कांग्रेस में असेस्टमेंट विंग बनाने का सुझाव है। यह विंग तय करेगी कि कौन कार्यकर्ता बेहतर काम कर रहा है और उसका क्या रिवॉर्ड देना चाहिए? जो लोग खराब काम या पार्टी के विरोध में काम करेंगे, उन्हें सजा का प्रावधान किया जाएगा। कांग्रेस के नेता माकन ने कहा कि हम पार्टी में अनुशासन को और मजबूत करेंगे। इसके लिए हर स्तर पर अनुशासन कमेटी बनेगी। शिविर में इस पर चर्चा की जाएगी।
माकन ने बताया कि चिंतन शिविर में जो कमेटियां गठित की गई है, उनमें पचास प्रतिशत लोग 50 साल से कम उम्र के हैं। आगे भी इसको लागू रखा जाएगा।
कोई भी व्यक्ति पांच साल से अिधक किसी एक पद पर नहीं रह सकेगा। इन पदाधिकारियों को अपनी परफार्मेंस देनी होगी। अच्छा काम नहीं करने पर उन्हें तीन साल तक पद से मुक्त रखा जाएगा। पार्टी में काम करने पर आगे मौका दिया जाएगा। 
कांग्रेस युवाओं के साथ महिला वोटर्स पर भी फोकस करने की तैयारी में है। यूपी विधानसभा चुनाव में पार्टी ने प्रियंका गांधी के नेतृत्व में इसी रणनीति पर काम किया था। अब इसे आगे भी लागू रखा जाएगा।

Report- Akanksha Dixit.

uv24news
Author: uv24news

+43
°
C
+45°
+37°
Delhi (National Capital Territory of India)
Wednesday, 30
Thursday
+44° +35°
Friday
+42° +35°
Saturday
+43° +34°
Sunday
+43° +35°
Monday
+44° +36°
Tuesday
+45° +36°
See 7-Day Forecast

 

Radio Live