पाठ्यक्रम से मौलाना आजाद से जुड़े संदर्भ हटाने पर गुस्साए थरूर, सरकार पर लगाया अपमान करने का आरोप

Share this post

पिछले साल अपने सिलेबस रेशनलाइजेशन अभ्यास के हिस्से के रूप में एनसीईआरटी ने ओवरलैपिंग और अप्रासंगिक कारणों का हवाला देते हुए पाठ्यक्रम से कुछ हिस्सों को हटाया था, जिसमें गुजरात दंगा, मुगल अदालत, आपातकाल, शीत युद्ध आदि शामिल थे।
कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शशि थरूर ने शुक्रवार को सरकार पर देश के पहले शिक्षा मंत्री के अपमान करने का आरोप लगाया। दरअसल, एनसीईआरटी की 11वीं कक्षा की राजनीति विज्ञान की नई पाठ्यपुस्तक से भारत के पहले शिक्षा मंत्री मौलाना अबुल कलाम आजाद के संदर्भों को हटा दिया गया है। इसी को लेकर थरूर ने सरकार की आलोचना की और अपमानजनक बताया गौरतलब है, पिछले साल अपने सिलेबस रेशनलाइजेशन अभ्यास के हिस्से के रूप में एनसीईआरटी ने ओवरलैपिंग और अप्रासंगिक कारणों का हवाला देते हुए पाठ्यक्रम से कुछ हिस्सों को हटाया था, जिसमें गुजरात दंगा, मुगल अदालत, आपातकाल, शीत युद्ध आदि शामिल थे। हालांकि इस दौरान कक्षा 11 की राजनीति विज्ञान की पाठ्यपुस्तक में किसी भी बदलाव का कोई उल्लेख नहीं था।

Akanksha Dixit
Author: Akanksha Dixit

+43
°
C
+45°
+37°
Delhi (National Capital Territory of India)
Wednesday, 30
Thursday
+44° +35°
Friday
+42° +35°
Saturday
+43° +34°
Sunday
+43° +35°
Monday
+44° +36°
Tuesday
+45° +36°
See 7-Day Forecast

 

Radio Live