BJP ने लास्ट हथियार पर पत्ता खेला, यूनिफॉर्म सिविल कोड पर बोले अशोक गहलोत; बताई ये वजह

Share this post

राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत ने कहा कि गुजरात में चुनाव से बीजेपी घबराई हुई है। इसलिए लास्ट हथियार यूनिफॉर्म सिविल कोड पर भी पत्ता खेल दिया। लोग बीजेपी के हथकंड़े समझ रहे हैं। सब जानते हैं।
राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत ने कहा कि गुजरात में यूनिफॉर्म सिविल कोड को लेकर गठित कमेटी पर प्रतिक्रिया दी है। सीएम गहलोत ने कहा कि बीजेपी घबराई हुई है। पीएम मोदी बार-बार हर सप्ताह आते हैं। आप समझ सकते हैं। लास्ट हथियार रह गया है कामन सिविल कोड, उस पर भी पत्ता खेल दिया है। गुजरात वाले समझ गए है। पीएम मोदी का बार-बार आना कामन सिविल कोड का चुनाव से पहले घोषणा करना उनकी कमजोरी बताता है। इसका नोटिस जनता करेगी। फायदा कांग्रेस को मिलेगा। बता दें, गुजरात सरकार ने यूनिफॉर्म सिविल कोड को लेकर एक कमेटी के गठन किया गया है। सीएम ने कहा कि हम हमारे कमिटमेंट पूरा करेंगे। सरकार में आने पर अपना वचन पूरा करेंगे। कांग्रेस 31 दिसंबर से परिवर्तन यात्रा निकालेगी। हम जनता को बताएंगे कि हमारे वचन क्या है। परिवर्तन यात्रा से माहौल बनेगा। अहमदाबाद के सर्किट हाउस में मीडिया से बात करते हुए कहा कि सीएम गहलोत ने कहा कि गुजरात में सत्ता विरोधी लहर है। बीजेपी से लोग त्रस्त है। ऐसे सत्ता विरोधी लहर मैंने कभी अपने जीवन में नहीं देखी है। सीएम ने कहा कि बीजेपी और केजरीवाल हथकंड़े अपना रहे हैं। केजरीवाल भी नोटों के ऊपर भगवान को लेकर आ गए। हथकंड़े वहीं अपनाते हैं, जुमले वहीं बोलते है जो चुनाव की बाजी हार चुके होते हैं। जिनका आत्मविश्वास कम हो चुका है। इन दोनों पार्टियों का चुनाव जीतने का आत्मविश्ववास नहीं है। केजरीवाल कितनी कोशिश कर लें उनका पता नहीं लगेगा यहां। आप देखेंगे परिमाण आएंगे तब।सीएम गहलोत ने कहा कि आम आदमी पार्टी को तो गुजरात में घुसने का अधिकार नहीं है। सीएम गहलोत ने कहा कि दिल्ली के सरकारी कार्यालयों से महात्मा गांधी की तस्वीर गायब कर दी गई है। महात्मा गांधी का अहिंसा का संदेश पूरी दुनिया को है। दुनिया लोहा मानती है। पीएम मोदी दुनिया के मुल्कों में जाते हैं तो लोग कहते है गांधी के देश से आए है। गुजरातवासियों को गर्व है हमारे यहां के गांधी है। केजरीवाल ने पंजाब में ही उनको पोस्टरों से हटा दिया। मैं दुस्हास मानता हूं। भगत सिंह का हम आदर करते हैं। देश के लिए फांसी के फंदे पर चढ़ गए। अंबेड़कर साहब का सब मान सम्मान करते हैं। केजरीवाल को किसने सलाह दी कि महात्मा गांधी के नाम और काम हटा दो। ये तो बेइज्जती करने वाली बात है। इनकों हम कैसे बर्दास्त कर सकते हैं। गुजरात के लोग कैसे बर्दास्त करेंगे। आज भले ही गुजरात के लोग कम या ज्यादा याद करते होंगे। महात्मा गांधी कम लोग याद करते है, मैंने सुना है। घर को जोगी जोगणा वाली कहावत है। कई लोग मुझे बताते है कि गुजरात में याद करते हैं। गांधी जी ठीक थे। गांधीजी ठीक थे, है और रहेंगे। दुनिया के अंदर गांधी का संदेश रहेगा। महात्मा गांधी का कोई विकल्प नहीं हो सकता। सीएम गहलोत ने कहा कि केजरीवाल ने गांधी को हटा दिया था। मैं निंदा करता हूं। उनका दुस्सहास कैसे हो गया है। फिर किस नैतिकता से गुजरात में वोट मांगने के लिए आ रहे हैं। लोगों को गुमराह कर रहे हैं। केजरीवाल के झूठे वादों में कोई दम नहीं है। हमारे वादों में दम है। आप चेक कर लीजिए। राहुल गाधी ने जो वचन किए यहां पर। वे वचन हमनें राजस्थान में लागू कर दिए है। यहां भी लागू करेंगे।

Report- Akanksha Dixit.

Akanksha Dixit
Author: Akanksha Dixit

+43
°
C
+45°
+37°
Delhi (National Capital Territory of India)
Wednesday, 30
Thursday
+44° +35°
Friday
+42° +35°
Saturday
+43° +34°
Sunday
+43° +35°
Monday
+44° +36°
Tuesday
+45° +36°
See 7-Day Forecast

 

Radio Live