गुरुग्राम में गार्ड पर थप्पड़ बरसाने वाले को मिली जमानत, पुलिस ने कहा- जल्द दायर करेंगे चार्जशीट

Share this post

गुरुग्राम के एसीपी संजीव कुमार ने कहा, पुलिस ने गुरुग्राम के एक सोसायटी में रहने वाले वरुण को धारा 323 और 506 के तहत गिरफ्तार किया था। उसपर इसी सोसायटी में रहने वाले गार्ड को थप्पड़ मारने का आरोप है। गुरुग्राम में थप्पड़ कांड के आरोपी वरुण को जमानत मिल गई है। गुरुग्राम पुलिस ने इस बात की पुष्टि करते हुए कहा कि एक सुरक्षा गार्ड को थप्पड़ मारने और धमकी देने के मामले में गिरफ्तार किये गये वरुण नाथ को बेल पर रिहा किया गया है। पुलिस ने वरुण नाथ पर सुरक्षा गार्ड से मारपीट के मामले में केस दर्ज किया था। बताया जा रहा है कि गुरुग्राम के बिल्डिंग में लिफ्ट के अंदर वरुण फंस गया था। जिसके बाद सुरक्षा गार्ड ने उसका रेस्क्यू किया था। पुलिस ने यह भी कहा है कि मामले में जल्द ही चार्जशीट फाइल की जाएगी। गुरुग्राम के एसीपी संजीव कुमार ने कहा, पुलिस ने गुरुग्राम के एक सोसायटी में रहने वाले वरुण को धारा 323 और 506 के तहत गिरफ्तार किया था। उसपर इसी सोसायटी में रहने वाले गार्ड को थप्पड़ मारने का आरोप है। आरोपी जमानत पर बाहर आया है। केस में जल्द ही चार्जशीट दायर की जाएगी।’ बता दें कि आरोपी के खिलाफ गुरुग्राम सेक्टर-50 में केस दर्ज हुआ है। इस एफआईआर में पीड़ित आशोक कुमार ने कहा है कि उसकी जिंदगी खतरे में है और गुहार लगाई है कि उसे सुरक्षा प्रदान की जाए। इससे पहले आज ग्रुरुग्राम पुलिस के पीआरओ सुभाष बोकेन ने भी पुष्टि की थी कि आरोपी पर विभिन्न धाराओं के तहत केस दर्ज हुआ है। एफआईआर में कहा गया है, ’29 अगस्त को मैं रात करीब 7 बजकर 50 मिनट पर The Close North Apartment में अपनी ड्यूटी पर आया था। सुबह करीब 7 बजकर 20 मिनट पर लिफ्ट नंबर-1 ग्राउंड फ्लोर पर अचानक 3-4 मिनट के लिए रुक गई। कुछ तकनीकि समस्या की वजह से ऐसा हुआ था।
इसके बाद टी-12, फ्लैट नंबर-1402 में रहने वाले वरुण नाथ बाहर आए। वो आकर मुझे गालियां देने लगे और जान से मारने की धमकी देने लगे। मैंने इसके बारे में अपने सीनियर्स को सूचना दी। पूरी घटना सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई। मेरी कोई गलती नहीं है। लेकिन इस घटना ने मेरी जिंदगी को खतरे में डाल दिया है। इसलिए मैं एचएचओ (सेक्टर-46, गुरुग्राम) से अपील करना चाहूंगा कि वो मुझे सुरक्षा प्रदान करवाएं। इसके अलावा वरुण नाथ पर भी कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए’ पीड़ित गार्ड ने कहा, ‘मैंने 3-4 मिनट के अंदर ही उन्हें लिफ्ट से निकालने में मदद की। लेकिन जैसी ही वो बाहर आए वो मुझे पीटने लगे। मैंने उनसे कहा कि वो गलत हैं मैं नहीं, तब उन्होंने लिफ्ट ऑपरेटर को भी थप्पड़ मारा।’
बता दें कि यह पूरी घटना सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई थी और सोशल मीडिया पर इसका वीडियो वायरल है। कई लोगों ने इस युवक के बर्ताव की निंदा की है।

Report- Akanksha Dixit.

Akanksha Dixit
Author: Akanksha Dixit

+43
°
C
+45°
+37°
Delhi (National Capital Territory of India)
Wednesday, 30
Thursday
+44° +35°
Friday
+42° +35°
Saturday
+43° +34°
Sunday
+43° +35°
Monday
+44° +36°
Tuesday
+45° +36°
See 7-Day Forecast

 

Radio Live