मोदी बनाम केजरीवाल होगा 2024 का लोकसभा चुनाव, सीबीआई छापे के बाद बोले सिसोदिया

Share this post

मनीष सिसोदिया ने अपने घर पर सीबीआई के छापे के बाद कहा कि केंद्र सरकार अरविंद केजरीवाल को रोकना चाहते हैं, जिनके द्वारा शिक्षा और स्वास्थ्य क्षेत्र में किए गए काम की दुनियाभर में चर्चा हो रही है। दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने अपने घर पर सीबीआई के छापे के एक दिन बाद शनिवार को दावा किया कि 2024 का लोकसभा चुनाव मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल बनाम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी होगा। उन्होंने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री मोदी आम आदमी पार्टी (आप) के राष्ट्रीय संयोजक केजरीवाल को डराने के लिए सभी हथकंडे आजमा रहे हैं। सिसोदिया ने कहा कि दिल्ली की आबकारी नीति पूरी पारदर्शिता के साथ लागू की गई थी और कोई घोटाला नहीं हुआ है। उन्होंने कहा कि ये लोग (केंद्र सरकार) अरविंद केजरीवाल को रोकना चाहते हैं, जिनके द्वारा शिक्षा और स्वास्थ्य क्षेत्र में किए गए काम की दुनियाभर में चर्चा हो रही है।
गौरतलब है कि सीबीआई ने दिल्ली की आबकारी नीति के क्रियान्वयन में कथित भ्रष्टाचार के संबंध में एफआईआर दर्ज करने के बाद शुक्रवार सुबह सिसोदिया और आईएएस (भारतीय प्रशासनिक सेवा) अधिकारी आरव गोपी कृष्ण के आवास पर छापे मारे थे। जांच एजेंसी ने 29 अन्य स्थानों की भी तलाशी ली थी।
उपमुख्यमंत्री ने मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि मेरे परिवार को कोई असुविधा न होने देने के लिए उनका आभार जताना चाहता हूं। वे अच्छे अधिकारी हैं, लेकिन उन्हें छापे मारने के लिए ऊपर से आदेश मिले हैं। सिसोदिया ने दावा किया कि इन लोगों (केंद्र सरकार) को घोटाले की चिंता नहीं है, इन लोगों की चिंता अरविंद केजरीवाल हैं, जिनसे जनता प्यार करती है और जो ‘राष्ट्रीय स्तर पर एक विकल्प’ के रूप में उभरे हैं। उन्होंने कहा कि उन्हें आबकारी नीति में किसी घोटाले की चिंता नहीं है। उन्हें केजरीवाल की चिंता है, जिन्हें जनता का प्यार मिला है, खासतौर पर पंजाब विधानसभा चुनाव में पार्टी की जीत के बाद। वे शिक्षा और स्वास्थ्य क्षेत्र में किए जा रहे अच्छे काम को रोकना चाहते हैं। उन्होंने सबसे पहले स्वास्थ्य विभाग संभाल रहे सत्येंद्र जैन को गिरफ्तार किया और मुझे भी अगले कुछ दिनों में गिरफ्तार कर लिया जाएगा।
सिसोदिया ने आबकारी नीति 2021-22 को ‘सबसे अच्छी नीति’ बताया और कहा कि इसके क्रियान्वयन में ‘कुछ गलत नहीं’ हुआ, बल्कि यह केजरीवाल को डराने की एक साजिश है। उन्होंने कहा कि यह प्रधानमंत्री को शोभा नहीं देता है, जिन्हें जनादेश मिला है। केजरीवाल और मोदी में फर्क यह है कि केजरीवाल गरीब लोगों के बारे में सोचते हैं और मोदी अपने चुनिंदा मित्रों की फिक्र करते हैं। सिसोदिया ने कहा कि केजरीवाल उन लोगों की सराहना करते हैं, जो अच्छा काम करते हैं, लेकिन मोदी केवल राज्य सरकारों को गिराने का सपना देखते हैं। वह अच्छा काम करने वाले लोगों को निशाना बनाने के लिए सीबीआई और ईडी जैसी केंद्रीय एजेंसियों का दुरुपयोग कर रहे हैं।
उल्लेखनीय है कि दिल्ली के उपराज्यपाल वी.के. सक्सेना ने पिछले महीने आबकारी नीति 2021-22 के क्रियान्वयन में कथित अनियमितताओं की सीबीआई जांच की सिफारिश की थी। उन्होंने इस मामले में 11 आबकारी अधिकारियों को निलंबित भी कर दिया था। सिसोदिया ने भी नीति में कथित अनियमितताओं की सीबीआई से जांच कराने की मांग की थी।
दिल्ली के शिक्षा मॉडल के बारे में ‘न्यूयॉर्क टाइम्स’ में पहले पन्ने पर छपे एक आर्टिकल के बारे में सिसोदिया ने कहा कि इसका श्रेय यहां के शिक्षकों की कड़ी मेहनत को जाता है।

Report- Akanksha Dixit.

uv24news
Author: uv24news

+43
°
C
+45°
+37°
Delhi (National Capital Territory of India)
Wednesday, 30
Thursday
+44° +35°
Friday
+42° +35°
Saturday
+43° +34°
Sunday
+43° +35°
Monday
+44° +36°
Tuesday
+45° +36°
See 7-Day Forecast

 

Radio Live